Valuable QuestionCategory: सामान्य ज्ञानयदि भारतीयों ने पुराने समय में कथित रूप से उन्नत तकनीक का निर्माण किया था, तो वह सब कहाँ गए?
Jaydip asked 7 months ago

If Indians had built up advanced technology in the old time, then where did they go?

1 Answers
Jaydip answered 7 months ago

* भारतीय ज्ञान परंपरा लिखित रूप में विश्वास न करते हुए श्रुत ज्ञान परंपरा के रूप में विकसित हुई थी। इसीलिए बहुत सा ज्ञान ऐसा भी है जो की समय होते हुए धीरे धीरे शेष हो गया। शायद आप जानते ही होंगे की कोई आपको सीखा रहा हो तो आप १००% सीख नहीं सकते। बस इसी तरह से ज्ञान का बहुत सारा भाग चला गया।
* भारतीयों (हिंदुओ) ने लिखित रूप से बहुत किताबे भी लिखी थी। नालंदा विद्यापीठ को जब इस्लामिक आक्रांता बख्तियार खिलजी ने जलाया, तब वहाँ पर लगभग ९० लाख किताबे थी। [1] तक्षशिला विद्यापीठ, वल्लभी विद्यापीठ जैसे कई सारे ज्ञान के स्त्रोतों को विध्वंसित किया गया या फिर जलाया गया। तुर्को और अफ़ग़ानों से लेकर मुघलो के सतत आक्रमण की बजह से भी बहुत सारे ज्ञान और तकनीक का बचाव करना क्लिष्ट होता गया। अंत में कई सारी विद्या और तकनीक नष्ट हो गई।
* बाकि जो कुछ भी है, हमारे आसपास बची हुई है और रहस्यमय है; क्योकि उसका संदर्भ मिलना असंभव है। आइए उसके कुछ उदाहरण आपके सामने प्रस्तुत करता हूँ।
——————
* क्या आप सोच भी सकते है की एक लोहे का स्तंभ १५०० सालो तक बिना जंग लगे खड़ा रह सके?
* यही तो तकनीक है की जिससे सर्दी, गर्मी या फिर वर्षा ऋतु में भी जंग के बिना यह अविचल खड़ा है। क्या आप इसे रसायन विज्ञान की सफलता नहीं मानोगे ? यह केवल एक ही उदाहरण है, ऐसे कई उदाहरण मैं दे सकता हूँ।
* बौधायन सूत्र के अंदर पाइथागोरस को त्रिपुटी का स्पष्ट उल्लेख है। जो की पाइथागोरस से ३ शताब्दी पहले हुए थे। शून्य की शोध के अलावा भी पाई और अनंत की शोध भारत में ही हुई। भास्कराचार्य, आर्यभट्ट और ब्रह्मगुप्त के योगदानो से भला क्या परिचित कराना। फिबोनॅन्सी श्रेणी का उल्लेख हेमचंद्राचार्य १२वी शताब्दी के पुस्तक में करते है।
* मैंने इस विषय पर दो-तीन विस्तृत संशोधनात्मक लेख लिखे हुए है। आगे जाकर और भी लिखने वाला हूँ। हमारा बहुत सारा ज्ञान और तकनीक समय चलते शेष हो गया, अब हमे हमारे ज्ञान को पढ़कर व् नए संशोधन कर फिर जीवित रखना है। अन्यथा यह भी शेष हो जाएगा।