Valuable QuestionCategory: सामान्य ज्ञानमैं क्यों लिखता हूँ?
jaydip asked 1 month ago

Why do i write

1 Answers
Jaydip answered 1 month ago

* हम सभी खुद को व्यक्त करना चाहते हैं। अपने आंतरिक उद्वेग को एक रूप देना चाहते हैं।
* और अभिव्यक्ति कई रूपों में हो सकती है : लेखन से , कहने से, कर्मों से, क्रियाकलापों व गतिविधियों से ।
* विभिन्न माध्यमों से हम अपने भावों – विचारों , आवेगों, संवेगों , जानकारियों, अनुभूतियों , सपनों , संघर्षों , संकल्पों ,जीवन के निचोड़ों -निष्कर्षों को अभिव्यक्ति देते रहते हैं और लेखन उसी अभिव्यक्ति का प्रकार है।
———–
* मैं लिखता हूँ क्योंकि मुझे कुछ कहना होता है
* क्योंकि अभी भी सुनने वाले नहीं हैं ,
* मैं लिखता हूँ क्योंकि नित नयी अनुभूतियाँ होती है
* क्योंकि अभी भी सपने मरे नहीं,
* मैं लिखता हूँ क्योंकि नये भाव उमड़ते हैं ,
* क्योंकि अभी भी कल्पनाशक्ति स्फूर्त हैं,
* मैं लिखता हूँ क्योंकि मेरी चेतना अभी भी जागृत है
* क्योंकि अभी भी भावनाएं ज़िंदा है,
* मैं लिखता हूँ क्योंकि नये सपने उगते रहते हैं
* तड़पते रहते हैं,
* बदलते रहते हैं,
* क्योंकि अभी भी संघर्ष पूरा नहीं हुआ।
* मैं लिखता हूँ क्योंकि लेखन चिर-शाश्वत है,
* हमेशा-हमेशा रहेगा।
——————–
* लेखन में एक तरह का सृजन -सुख है। जब हम किसी तरह का सृजन करते हैं और वह मनोनुकूल हो जाता है तो यह सुख उच्चतर कोटि का होता है।